शिव'राज' में सरकारी कॉलेज का फरमान, जींस पहनने पर लड़कियों की नोएंट्री

शिव'राज' में सरकारी कॉलेज का फरमान, जींस पहनने पर लड़कियों की नोएंट्री

भोपाल के सरोजनी नायडू पीजी कॉलेज ने एक जनवरी से लड़कियों के जींस या फिर कोई भी कलरफुल ड्रेस पहनकर आने पर पाबंदी लगा दी है. इसकी जगह लड़कियों को कॉलेज की तरफ से निर्धारित ड्रेस कोड सलवार-कुर्ते में आना होगा. कॉलेज ने इसे सभी लड़कियों के लिए जरूरी बताया है.
कॉलेज प्रशासन ने इसके साथ ही मेन गेट पर मेनीक्वि‍न रखी है जिसे निर्धारित ड्रेस कोड पहनाया गया है. साथ ही नोटिस भी लगाया गया है जिसमें कुर्ते की लंबाई घुटने तक रखने के निर्देश दिए हैं. इसमें बताया गया है कि 1 जनवरी से पिंक और ब्राउन स्ट्राइप्स वाले कुर्ते को हल्के ब्राउन कलर की सलवार के साथ पहनकर आना होगा.
8वीं नहीं अब 5वीं के बाद भी फेल हो सकेंगे छात्र, प्रस्ताव को मंजूरी
कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ रंजना अग्निहोत्री ने इंडिया टुडे से बात करते हुए कहा, 'ये फैसला बच्चों के लिखित फीडबैक के आधार पर ही लिया गया है. फाइनल ईयर के छात्रों का इस फैसले पर ज्यादा विरोध है जिसकी वजह है की उनका कॉलेज में लास्ट ईयर होना. ऐसे में सिर्फ तीन महीनों के लिए ड्रेस खरीदना बेवजह होगा.' हालांकि
वर्ल्ड के टॉप संस्थान में हो भारतीय इंस्टीट्यूट: एआईसीटीई प्रमुख
लेकिन छात्रों का कहना है की ये विरोध सिर्फ फाइनल ईयर के छात्रों का नहीं है बल्कि सभी इस फैसले के खिलाफ हैं. सभी आरामदायक और अपनी पसंद के कपड़े पहनना चाहते हैं. बता दें कि सरोजनी नायडू पीजी कॉलेज एक ऑटोनॉमस कॉलेज है जो पिछले 12 साल से मध्य प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा विभाग के अंदर काम कर रहा है.