कथित गोरक्षकों के खिलाफ भोपाल में चार बत्ती चौराहे पर विरोध प्रदर्शन कर डेमोक्रेटिक पार्टी आफ इंडिया ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

कथित गोरक्षकों के खिलाफ भोपाल में चार बत्ती चौराहे पर विरोध प्रदर्शन कर डेमोक्रेटिक पार्टी आफ इंडिया ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा।

मध्यप्रदेश के सिवनी ज़िले में एक दिल दहलाने वाली घटना।
एक महिला और दो पुरुषों साथ की गई निर्मम मारपीट और जबरन लगवाये जय श्री राम के नारे
राईट पथ की रिपोर्ट : डॉक्टर शेख अब्दुल्लाह
मध्यप्रदेश के शहर सिवनी मे कथित गौमांस के नाम पर भीड़ तंत्र द्वारा एक महिला और दो पुरुषों साथ की गई निर्मम मारपीट के विरोध में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी आफ इंडिया, मध्यप्रदेश द्वारा भोपाल मे चार बत्ती चौराहे पर विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन उपरांत मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया गया।
ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री से मांग की गई कि, पिड़तों पर दर्ज किए गए झूठे मुकदमे वापस लिए जाएं। हिंसा फैलाने वालों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज कर उन्हें कड़ी सज़ा दी जाए। पिडित परिवार को उचित मुआवज़ा दिया जाए तथा उनका निशुल्क इलाज करवाया जाए।
प्रदर्शन प्रदेश अध्यक्ष इरफानुलहक अंसारी के नेतृत्व में किया गया इस अवसर पर एड्वोकेट साजिद सिद्दीकी, अ. रऊफ बेलिम, कफील रज़ा,अ. गनी खान, डॉक्टर मुमताज़ कुरैशी, हाफिज़ गुलाम रसूल, भोपाल ज़िला अध्यक्ष बादशाह खान व अन्य लोग शरीक थे।
जैसा के हमें मालूम हे हमारे देश में पिछले कुछ सालों से  मॉब लिंचिंग की घटनाये लगातार हो रही हे जिसमे कुछ लोगों के द्वारा निहत्ते और मासूम लोगों को पीटा जाता है और इतना मारा जाता है के पीड़ित शख्स की जान चली जाती है ।
मोबलिंचिंग की नफरत और अपराधिक घटना की हवा हमारे मध्यप्रेदश में भी चलपड़ी है जिसने पिछले कुछ महीनो पहले सतना जिले के सिराज को मौत के घाट उतार दिया था और उसके  साथी शकील को मार मार कर अपाहिज़ कर दीया और हाल ही में ये घटना सिवनी में देखने को मिली है जिसमे दो मुस्लिम लड़को के साथ एक औरत (बहन) को भी मारा और ज़बरदस्ती जय श्री राम के नारे भी बुलवाये गए जिसकी वीडियो आप सबने देखी होगी ये घटना हमेशा मुस्लिमो के साथ देखने को मिलती है आईये हम सब मोबलिंचिंग के खिलाफ हमेशा विरोध करने वाले और अपराधियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर सज़ा दिलवाने वालों का साथ दे ।
रमज़ान के इस नेकी वाले महीने में मोबलिंचिंग की आग को भुजाने वाले और ज़ुल्म के खिलाफ आवाज़ उठाने वालों का साथ देकर अल्लाह की नज़र में अपना मर्तबा बुलंद करें और 28 मई 2019 दोपहर 2:00 बजे बुधवार चार बत्ती चोराहे पर आगे बढ़ कर इस घटना का पुरज़ोर तरीके से विरोध प्रदर्शन किया।