नतृयवाटिका’’ ग्रीष्मकाल नृत्य महोत्सव का आयोजन शहीद भवन, भोपाल में किया गया।

नतृयवाटिका’’ ग्रीष्मकाल नृत्य महोत्सव का आयोजन शहीद भवन, भोपाल में किया गया।

 ’’नृत्यवाटिका’’ का आयोजन संपन्न हुआ
नटराज परफार्मिंग आर्टस के तत्वाधान में बीती रात 6 बजे से ’’नतृयवाटिका’’ ग्रीष्मकाल नृत्य महोत्सव का आयोजन षहीद भवन, भोपाल में किया गया।


जिसमें आयोजन के सहयोगकर्ता यामिनी कल्चर एवं वेलफयर सोसायटी, भोपाल रहे।
    कार्यक्रम के अंतर्गत लोकनृत्य, कन्टेवरी, फ्री स्टाइल, फील डांस, पारंपरिक कथन, भरताटयम इत्यादि नृत्यों की प्रस्तुतियाँ बच्चों द्वारा दीं गईं। जो सराहनिय थीं। बहुत महनत से बच्चों को नृत्य प्रषिषण दिया गया। जाॅय वाधवानी ने बहुत परिश्रम से यह आयोजन सफलता पूर्वक किया। ’’नृत्यवाटिका’’ संस्था नटराजन परफार्मिंग आर्टस विगत 5 वर्षाें से कई क्षेत्रों में कार्यरत है। इसमें स्लम एरिया व आर्थिक रूप से पिछड़े निर्धन बच्चों को निःषुल्क षिक्षा तथा उनकी अभिरूचियों (नृत्य, ड्राईंग, ललित कला, नाटक) इत्यादि का प्रषिक्षण दिया जाता है। इस वर्ष भी ग्रीष्म अवकाष मंे स्लम तथा आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों को भोपाल के विभिन्न क्षेत्रों जैसे छोला ,डी.आई.जी.,बंगला, करोंद, इब्राहिमगंज में नृत्य कार्यषाला का आयोजन किया गया है। जिसमंे बच्चों ने उनकी रूचि के अनुसार नृत्यों की विविधताओं को देखते हुए उनका चयन किया। तीन माह तक कार्यषाला का आयोजन किया गया।
संस्था के वि़़द्यार्थी विभिन्न नृत्यों को सीख कर राज्य तथा राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताआंे मंे भाग ले चुके है।
राष्ट्रीय लोक नृत्य प्रतियोगिता में विगत लगातार चार वर्षाें से षीर्ष तृतीय मंे स्थान प्राप्त कर चुके है।
नेषनल टेलीविजन डांस इंडिया गाॅट टेलंेट मंे भी परफार्म कर चुके है।
इसमंे मुख्य रूप से बच्चों से अलग-अलग काम मंे प्रस्तुतियाॅं दी जो की इस प्रकार थी। आजकल जो छोटी-छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार किये जा रहे हैं उसी थीम पर इमंे एक फिल डांस की प्रस्तुति थी। और तिरंगो के रंगो को अपने ष्षरीर पर रंगकर बच्चों की प्रस्तुतियाॅ दी
कन्टेपरी डंास के द्वारा पुलवामा हमले के षहीदांे को श्रद्वांजली दी। बच्चों के द्वारा षिव ताण्डव किया।
प्रषिक्षण मंे तीन बच्चांे ने भाग लिया था, उसे फ्री स्टाइल मंे प्रस्तुति दी।
इसी मंे यामिनी मोरे द्वारा कालबेलिया नृत्य की प्रस्तुति दी। पारंपरिक वेषभूषाओं मंे बच्चांे द्वारा फंेसी ड्रेस का प्रदर्षन किया गया। संस्था के निर्देषक तथा कार्यक्रम के आयोजक जायॅ वाधवानी एवं सहयोग मंे सीमा मोरे थी।
ष्