कोरोना ने ली पहली भारतीय विमानन कंपनी की बलि

कोरोना ने ली पहली भारतीय विमानन कंपनी की बलि

देश-दुनिया में कोरोना वायरस का खतरा बढ़ता जा रहा है। देशों की आर्थिक हालत भी अब कमजोर होने लगी है। भारत से बड़ी खबर है कि कोरोना वायरस से पैदा हुए हालात के चलते देश की पहली क्षेत्रीय विमानन कंपनी Air Deccan ने अपना परिचालन अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया है।

Air Deccan ने इसकी जानकारी देते हुए यह भी कहा कि कर्मचारियों को इस अवधि के लिए अवैतनिक छुट्टी पर भेज दिया गया है।  अपने कर्मचारियों को लिखे ई-मेल में Air Deccan के सीईओ अरुण कुमार सिंह ने लिखा, दुनियाभर के मौजूदा हालात के साथ ही घरेलू परिस्थितियां बेहद विपरीत हैं। भारतीय विमानन नियामक ने लॉकडाउन के चलते 14 अप्रैल तक परिचालन बंद रखने का निर्देश दिया हुआ है। ऐसे में कंपनी के पास अगले आदेश तक के लिए परिचालन बंद कर देने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा है।  अरुण कुमार सिंह ने लिखा ने यह भी लिखा कि बेहद भारी मन से मैं यह भी कहना चाहता हूं कि Air Deccan के सभी स्थायी, अस्थायी और अनुबंध पर रखे गए कर्मचारियों को परिचालन बंद रहने की अवधि में अवैतनिक अवकाश पर भेजा जा रहा है।  उत्पादन में ऐतिहासिक कटौती के बाद Crude Oil के दामों में तेजी, क्या होगा Petrol Diesel के रेट का? उत्पादन में ऐतिहासिक कटौती के बाद Crude Oil के दामों में तेजी, क्या होगा Petrol Diesel के रेट का? यह भी पढ़ें  बता दें Air Deccan के पास 18-सीटों वाले 4 विमान हैं, जिनके माध्यम से वह पश्चिम भारत में क्षेत्रीय उड़ानों का परिचालन करती है। कंपनी का मुख्य केंद्र गुजरात है। अरुण कुमार सिंह के अनुसार, अगले सप्ताह Air Deccan के विभाग प्रमुखों की बैठक होगी, जिसमें चुनिंदा अधिकारियों की सेवा बरकरार रखने का फैसला लिया जाएगा, ताकि परिस्थितियां परिचालन के अनुरूप होते ही उड़ान सेवा वापस बहाल की जा सके।