Lockdown में 130 किमी चलाई साइकल, पत्नी को ले गया अस्पताल

Lockdown में 130 किमी चलाई साइकल, पत्नी को ले गया अस्पताल

पुडुचेरी। कोरोना वायरस (Corona virus) के संक्रमण के मद्देनजर लागू बंद की वजह से परिवहन का कोई साधन उपलब्ध नहीं होने के बावजूद एक व्यक्ति अपनी कैंसर पीड़ित पत्नी को कीमोथेरेपी के लिए साइकल से 130 किलोमीटर दूर स्थित अस्पताल ले गया।
अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक, बंद की वजह से तमिलनाडु और पुडुचेरी के बीच कोई बस सेवा नहीं चल रही है। पड़ोसी राज्य तमिलनाडु के रहने वाले अरिवझागन करीब 12 घंटे तक साइकल चलाकर अपनी 60 वर्षीय पत्नी को लेकर जेआईपीएमईआर अस्पताल पहुंचे।  उन्होंने बताया कि उनके पास कैब के लिए पैसे भी नहीं थे लेकिन उनका इरादा मजबूत था कि वह अपनी पत्नी की कीमोथेरेपी में कोई बाधा नहीं आने देंगे। साइकल से ही सही, वह समय पर कीमोथेरेपी के लिए अस्पताल पहुंच गए। उन्होंने अपनी पत्नी को एक तौलिए से अपने साथ बांध रखा था ताकि वह गिरे नहीं।  बंद ने कई ऐसी घटनाएं लोगों के सामने लाई हैं जिसमें लोगों ने नि:स्वार्थ प्रेम की भावना दिखाई है। हाल ही में तेलंगाना की 48 वर्षीय एक महिला अपने दो पहिया वाहन से 1400 किलोमीटर दूर चली गई ताकि वह आंध्र प्रदेश में फंसे अपने किशोर बेटे को वापस ला सके।  अरिवझागन ने 31 मार्च को यात्रा शुरू की थी और वह उसी रात जवाहरलाल इन्स्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (जेआईपीएमईआर) अस्पताल पहुंच गए। रास्ते में उन्होंने आगे बढ़ने के लिए पुलिस को इलाज से जुड़े दस्तावेज दिखाए।अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि एक अप्रैल को सुबह उनकी पत्नी की कीमोथेरेपी हुई और इसके बाद उन दोनों को एम्बुलेंस की मदद से घर भेजा गया।