भोपाल में लॉकडाउन बढ़ाने पर गृहमंत्री का बड़ा बयान,आज कोरोनावायरस ने तोड़े सभी रिकॉर्ड

भोपाल में लॉकडाउन बढ़ाने पर गृहमंत्री का बड़ा बयान,आज कोरोनावायरस ने तोड़े सभी रिकॉर्ड

ध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को काबू में करने के लिए टोटल लॉकडाउन लगाया गया था लेकिन लॉकडाउन में भी कोरोना वायरस लगातार नए रिकॉर्ड बना रहा है। टोटल लॉकडाउन के बीच भोपाल में बुधवार को रिकॉर्ड 246 नए पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद अब इस बात के कयास लगने लगे हैं कि क्या राजधानी में 10 दिन के लॉकडाउन को और आगे बढ़ाया जाएगा।                                                                

भोपाल में लॉकडाउन बढ़ाने के मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा
ने कहा कि पहली प्राथमिकता अन्य विकल्पों की होगी, अगर कोई अन्य विकल्प नहीं मिलता है तब लॉकडाउन के विकल्प पर विचार किया जाएगा। गृहमंत्री ने कहा कि मुझे नहीं लगता हैं कि इन तारीखों को और आगे बढ़ा रहे हैं, कोई और विकल्प पर भी विचार करेंगे और कोई विकल्प नहीं मिलेगा तो इस विकल्प की सोचेंगे लेकिन पहली प्राथमिकता हमारे दूसरे विकल्पों की होगी न कि लॉकडाउन बढ़ाने की।
भोपाल में बेकाबू कोरोना – वहीं राजधानी भोपाल में टोटल लॉकडाउन लगे हुए 5 दिन बीत चुके है लेकिन कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। बीते
पांच दिनों में भोपाल में कोरोना के एक हजार नए मामले सामने आ चुके है। भोपाल में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 6 हजार के आंकड़ों को पार कर गया है जिसमें मंगलवार को 199 और आज 246 नए पॉजिटिव मरीज पाए गए है। राजधानी में कोरोना का कोरोना का संक्रमण लगातार नए इलाकों में बढ़ाता जा रहा है। शहर की कई पॉश कॉलोनियां कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आ चुकी है।
होटल में सकेंगे क्वारेंटाइन – राजधानी में लगातार कोरोना संक्रमण के मामलों के बाद अब प्रशासन संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों के भी क्वारेंटाइन कराने का फैसला किया है। वहीं अब लोग सरकारी कोविड सेंटर के साथ ही होटल में भी क्वारेंटाइन हो सकेंगे। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि
सरकार के कोविड सेंटर और अस्पताल में निशुल्क चिकित्सा होगी लेकिन कुछ लोग प्राइवेट में जाना चाहते है अपने पैसे से इलाज करना चाहते है तो उनको रोक नहीं होगी ।