क्रिस्प के साथ होगा एमओयू - आईटीआई की ग्रेडिंग की जायेगी

क्रिस्प के साथ होगा एमओयू - आईटीआई की ग्रेडिंग की जायेगी

           चिन्हित आईटीआई के बच्चों को प्रशिक्षण दिया जायेगा

तकनी‍की शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा है कि प्रदेश के आईटीआई के बच्चों को डिजिटली अपग्रेड करने में सेंटर फॉर रिसर्च एंड इंडिस्ट्रियल स्टाफ परफारमेंस (क्रिस्प) की मदद ली जायेगी। श्रीमती सिंधिया बुधवार को तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास के अधिकारियों के साथ क्रिस्प की गतिविधियों की समीक्षा कर रही थी।
मंत्री श्रीमती सिंधिया ने जानकारी दी कि प्रदेश के चिन्हित आईटीआई के बच्चों को क्रिस्प द्वारा प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसके लिए सेल गठित होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोरोना के कारण बेरोजगारी बढ़ी है, ऐसे समय में हम विभिन्न विधाओं में युवाओं, महिलाओं तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों को कौशल विकास का प्रशिक्षण देकर रोजगार प्रदान कर सकते है। श्रीमती सिंधिया ने कहा कि क्रिस्प की ब्रांडिग आवश्यक है।
आईटीआई की ग्रेडिंग
तकनीकी शिक्षा मंत्री श्रीमती सिंधिया ने बताया कि सेंटर फॉर रिसर्च एंड इंडस्ट्रियल स्टाफ परफारमेंस (क्रिस्प) द्वारा उन आईटीआई की ग्रेडिंग की जायेगी, जिन्हें विभाग द्वारा चिन्हित किया जायेगा। इसके लिए क्रिस्प के साथ एमओयू किया जायेगा। क्रिस्प ग्रेडिंग कर विभाग को परफारमेंस डाटा उपलब्ध कराएगी।
इस अवसर पर प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास श्रीमती केरोलिन खोंगवाल, आयुक्त तकनीकी शिक्षा श्री पी. नरहरि, क्रिस्प के सीईओ श्री मुकेश शर्मा उपस्थित थे।