ऊपर वाला किसी को बचाना चाहे तो Mahindra Bolero भी भेज सकता है

ऊपर वाला किसी को बचाना चाहे तो Mahindra Bolero भी भेज सकता है

सोशल मीडिया पर सोमवार की शाम को एक वीडियो खूब चर्चा में है, जिसमें एक नवयुवक मौत के मुंह में समाते-समाते बचा। देश के ख्यात उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने एक सड़क दुर्घटना के वीडियो को साझा किया है, जिसे देखकर हर कोई यह कहने से नहीं चूक रहा है कि 'जाको राखे साईंयां मार सके न कोय'। यह कहावत इसलिए है कि ईश्वर जिसके साथ है, उसे कोई नहीं मार सकता...
अशोक श्रीवास्तव के 26 जुलाई के वीडियो को आनंद महिंद्रा ने शेयर किया है। महिंद्र लिखते हैं 'ऐसा लग रहा था कि बोलेरो एक जीवित चीज बन गई और उसका एकमात्र मिशन मोटर साइकिल चालक को बचाना था।'
उक्त वीडियो में एक युवक सड़क किनारे खड़ा हुआ है और तभी सामने से विशालकाय जेसीबी मशीन तेजी से आती दिखाई दे रही है। दूसरी तरफ से एक महिंद्रा बोलरो (Mahindra Bolero) कार तेजी से आती है। दोनों में जबरदस्त टक्कर होती है। इस टक्कर में बोलेरो आड़ी दिशा में टर्न होती है और मोटर साइकल वाले युवक को सुरक्षित सरका देती है। लगता है मानो वह उसकी जान बचा रही हो। इस दुर्घटना में युवक बोलेरो के पहियों में भी आकर अपनी जान गंवा सकता था लेकिन ऐसा हुआ नहीं...हैरत तो यह है कि बोलेरो ने न केवल युवक को सरकाया बल्कि उसकी मोटर साइकिल को भी क्षतिग्रस्त होने से बचा लिया। दूर छिटककर गया युवक इस अप्रत्याशित और अकल्पनीय घटना से हतप्रभ था। बोलेरो कार को जरूर थोड़ा नुकसान पहुंचा लेकिन उसने युवक की जान बचा ली। अशोक श्रीवास्तव ने खुद भी इस पर कमेंट करते हुए लिखा 'ऊपर वाला किसी को बचाना चाहे तो @MahindraBolero भी भेज सकता है।' आनंद महिंद्रा के इस वीडियो को 9.2K Retweets and comments के अलवा 67.5K Likes मिल चुके हैं। यह कहावत यूं ही नहीं बनी है कि 'जाको राखे साईंयां मार सके न कोय'। कम से कम यह वीडियो इसका प्रमाण है।