20 करोड़ का कर्ज लेकर ठगी करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

20 करोड़ का कर्ज लेकर ठगी करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार


मेट्रो द्वारा अधिग्रहित जमीन पर भी फर्जी दस्तावेज के आधार पर ले रखा था कर्ज 


दिल्ली। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने फर्जी दस्तावेज पर बैंक से 20 करोड़ का कर्ज लेकर ठगी करने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। 

ठगों की पत्नियां भी थी शामिल

ठगों में अश्वनी अरोड़ा, विजय अरोड़ा और इनकी पत्नियां शामिल हैं। पुलिस ने चारों को दिल्ली और गाजियाबाद के अलग-अलग जगहों से दबोचा।

बैंक के मुताबिक, रिया इंटरप्राइजेज के मालिक अश्वनी कुमार ने फर्जी दस्तावेज पर संपत्ति के बदले 70 लाख रुपये का कर्ज लिया था। वहीं, कुंज एल्युमिनियम प्राइवेट लिमिटेड के मालिक विजय कुमार और उसकी पत्नी ने भी फ्रेंड्स कॉलोनी स्थित संपत्ति के बदले 25 लाख रुपये लिए थे। इसके अलावा माधव एंटरप्राइजेज के मालिक अश्वनी कुमार ने दोबारा बैंक से 50 लाख रुपये का लोन लिया था। उसकी पत्नी इसकी गारंटर है।

सभी एक ही परिवार के सदस्य

ईओडब्ल्यू के ज्वाइंट कमिश्नर डॉ. ओपी मिश्रा के मुताबिक, नारायणा इंडस्ट्रियल एरिया स्थित पंजाब एंड सिंध बैंक के जोनल मैनेजर ने ठगी का मामला दर्ज कराया था। 

जांच में पता चला कि आरोपियों ने बैंक ऑफ बड़ौदा, सिंडिकेट बैंक, कर्नाटका बैंक और ओबीसी बैंक से करीब 20 करोड़ रुपये की ठगी कर रखी है। इसके बाद पुलिस ने इनकी तलाश आरंभ की और अंतत: इनके बारे में सूचना मिलने पर गिरफ्तार कर लिया।