पत्नी ने प्रेमी के चक्कर में एक हिस्ट्रीशीटर को पति के कत्ल की सुपारी दी

पत्नी ने प्रेमी के चक्कर में एक हिस्ट्रीशीटर को पति के कत्ल की सुपारी दी


फिरोजाबाद के थाना नारखी गांव खेरिया निवासी अवधेश सिंह शीशगढ़ के गांव सहोड़ा के इंटर कॉलेज में टीचर थे। 12 अक्टूबर की शाम को अवधेश ने अपनी मां अन्नपूर्णा से फोन पर अपनी जान का खतरा बताया। इसके बाद उनका मोबाइल बंद हो गया । 13 अक्टूबर को मां अन्नपूर्णा ने बेटे अवधेश के मोबाइल पर फोन किया तो फोन बंद जा रहा था। इसके बाद उन्होंने कई बार फोन लगाने की कोशिश की लेकिन बात नहीं हो पाई। जिस पर वह 16 अक्टूबर को बरेली पहुंची। बरेली में अवधेश सिंह के कर्मचारी नगर स्थित घर पर ताला पड़ा हुआ था।

 प्रेमी दोस्त के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया 

अन्नपूर्णा ने पड़ोसियों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि 13 अक्टूबर को रात 1 गाड़ी आई थी। उसी गाड़ी में सभी लोग बैठ कर चले गए। घर में ताला लगा दिया। उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी थी। पुलिस ने भी काफी खोजबीन की लेकिन कुछ पता नहीं लगा। जिस पर रविवार देर रात अन्नपूर्णा की तहरीर पर अवधेश सिंह की पत्नी विनीता सिंह, ससुर रिटायर फौजी अनिल कुमार, साली ज्योति और साले प्रदीप कुमार व विनीता के आगरा के रहने वाले कथित प्रेमी दोस्त के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था।

महिला के कथित प्रेमी से भी पूछताछ की जाएगी

एसएसपी रोहित सिंह सजवान ने बताया अवधेश की तलाश में पुलिस टीम को फिरोजाबाद भेजा था। वहां पूछताछ में पुलिस ने एक हिस्ट्रीशीटर चीकू को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसने हत्या करने की बात कबूल कर ली है। उसकी निशानदेही पर खेत से अवधेश सिंह का शव बरामद किया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। आरोपियों की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई हैं। आगरा में महिला के कथित प्रेमी से भी पूछताछ की जाएगी। उसे ट्रेस किया जा रहा है।

बोरे में लाश बंद कर खेत में गाड़ दी

हिस्ट्रीशीटर के मुताबिक परिवार वाले अवधेश सिंह को गाड़ी में बैठाकर बरेली से फिरोजाबाद लाए। यहां पहले पीटा, उसका गला दबाया। गला दबाकर हत्या करने के बाद उसकी लाश को बोरे में बंद किया। बाद में ले जाकर खेत में गाड़ दिया। हत्या करने में उसकी पत्नी साली, दोस्त व परिवार के अन्य लोग शामिल रहे। सभी के मोबाइल बंद जा रहे हैं। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।