जल स्त्रोतों मे दुर्गा मूर्ति विसर्जन की अपील, म.प्र. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

जल स्त्रोतों मे दुर्गा मूर्ति विसर्जन की अपील, म.प्र. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

 
सतना। म.प्र. प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जल प्रदूषण को रोकने के लिए मूर्ति निर्माण व विसर्जन के सन्दर्भ मे राष्ट्रीय हरित अधिकरण एवं केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के निर्देशानुसार प्राप्त गाइडलाइन अनुसार दुर्गा मूर्ति निर्माण एवं विसर्जन किया जाना सुनिश्चित करें।

    क्षेत्रीय अधिकारी डॉ ए.के. श्रीवास्तव ने जनहित में अपील जारी करते हुए बताया कि मूर्ति विसर्जन   कृत्रिम जल कुण्ड मे ही करें। पूजा मे उपयोग की गई फूल-पत्ती गमले मे डालने से अच्छी खाद प्राप्त होती है व प्लास्टिक सामान अलग कर डिस्पोजल करें। जलीय जीवों पर दया का भाव रखें उनके घर मे जहर न घोलें। “जल है तो कल है“