शव 15 घंटों से अंतिम संस्कार की बाट जोह रहा है, शव को मुखाग्नि देने के लिये कोई पुरुष मौजूद नहीं है

शव 15 घंटों से अंतिम संस्कार की बाट जोह रहा है, शव को मुखाग्नि देने के लिये कोई पुरुष मौजूद नहीं है

date body

राजस्थान में भरतपुर जिले के चिकसाना थाने के बुराबई गांव में एक वृद्ध महिला की मौत के बाद भी परिवार में किसी पुरुष के मौजूद न होने से शव 15 घंटों से अंतिम संस्कार की बाट जोह रहा है। जानकारी के अनुसार, बुराबई गांव में गत पांच अगस्त को दो परिवारों के बीच हुए संघर्ष में एक गुट के करतार सिंह की मौत हो गई थी। उसके बाद दूसरे गुट के परिवार के चार सदस्यों को पुलिस ने जेल भेज दिया, जबकि अन्य पुरुष सदस्य फरार हो गए।  सूत्रों ने बताया कि इसके बाद से ही इस गुट की महिलाएं घर से बाहर नहीं निकल पा रहीं। इसी दौरान इसी गुट की एक वृद्धा कई दिनों से बीमार थी, उसे उपचार के लिए अस्पताल नहीं ले जाने के कारण कल उसकी मृत्यु हो गई, लेकिन घर में एक भी पुरुष के मौजूद न होने से उसका अंतिम संस्कार नहीं हो पा रहा। मृतका के रिश्तेदार भी भयवश आ नहीं पा रहे हैं। फिलहाल शव को मुखाग्नि देने के लिये कोई पुरुष मौजूद नहीं है।  परिवार की एक महिला सदस्य रेनू ने बताया कि उनके विपक्षी परिवार के लोग उन्हें घरों से नहीं निकलने दे रहे हैं जबकि हत्या के इस मामले के बाद गांव में शांति व्यवस्था के लिए आरएसी तैनात है। मृतका के परिवार की महिलाओं ने मृतका के अंतिम संस्कार के लिए जेल से परिवार के सदस्यों की रिहाई की अपील की है ताकि मृतक बुजुर्ग महिला का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हो सके।