भोपाल: वियाग्रा की 10 गोली खाकर युवक पहुंचा अस्पताल, इलाज के दौरान मौत

भोपाल: वियाग्रा की 10 गोली खाकर युवक पहुंचा अस्पताल, इलाज के दौरान मौत

Bhopal: Youth reaches hospital after consuming 10 pills of Viagra, dies during treatment

 भोपाल में एक 25 वर्षीय युवक की वियाग्रा (शक्तिवर्धक दवा) खाने से मौत हो गई। वह दो दिन पहले अस्पताल में भर्ती हुआ था। इलाज के दौरान आज उसने दम तोड़ दिया।

उसने वियाग्रा की 10 गोलियां खा ली थीं। हालांकि इसके कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। वह यहां दो भाइयों और माता-पिता के साथ रहता था। उसकी शादी भी नहीं हुई थी।

मामले की जांच कर रहे पिपलानी थाने के अधिकारी देवीराम अंबे ने बताया कि पटेल नगर स्थित अस्पताल से गुरुवार को मर्ग की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंचने पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

डॉक्टर ने बताया कि मृतक 25 वर्षीय बाबूलाल मीणा है। उसे 9 दिसंबर की शाम भर्ती किया गया था। वह गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचा था।

उसने बताया था कि वियाग्रा की 10 गोलियां खा ली हैं। इलाज के दौरान गुरुवार को मौत हो गई। डॉक्टरों का कहना है कि गोलियों के ओवर डोज लेने से ऐसा हुआ है।प्रारंभिक रिपोर्ट में शरीर में सस्पेक्टेड पॉइजन आया है।

सुसाइड नोट नहीं मिला
जांच अधिकारी अंबे ने बताया कि न तो युवक ने गोलियां खाने का कारण बताया और ना ही उसके पास या घर से सुसाइड नोट मिला है। परिजन ने भी किसी तरह की आंशका नहीं जताई है।

जांच में सुसाइड के लिए गोलियां खाने की ज्यादा संभावना नजर आ रही है। अंबे ने बताया कि बाबूलाल प्राइवेट जॉब करता था। वह जुड़वां था। घर में सबसे बड़ा था। अब उससे छोटे उसके दो भाई हैं। तीनों भाई अविवाहित हैं।