MP: सिंधिया द्वारा 6 माह पहले वित्त आयोग के अध्यक्ष को लिखा पत्र हुआ वायरल, मची सियासी हलचल


कहते हैं सियासत में नेताओं की चिट्ठियां हलचल ला देती है। कुछ ऐसा ही हुआ है; देश के दिल मध्य प्रदेश में, जहां केंद्रीय बजट आने से ठीक पहले बीजेपी के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की 15वें वित्त आयोग को लिखी एक चिट्‌ठी सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। चिट्‌ठी पर लिखी तारीख के मुताबिक, सिंधिया ने वित्त आयोग के अध्यक्ष को यह चिट्‌ठी 8 अगस्त 2020 को लिखी थी, जिसमें उन्होंने प्रदेश में चल रही विभिन्न परियोजनाओं के लिए फंड की मांग की गई थी। लेकिन अब यह चिट्‌ठी सार्वजनिक हो और इसके सियासी मायने न निकाले जाएं, ऐसा राजनीति में असंभव है। कुछ लोगों को मानना है कि, क्या इसके जरिए उन्होंने सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश की है? राजनीतिज्ञ यह भी मान रहे हैं कि बजट से 6 माह पहले ही सिंधिया द्वारा वित्त आयोग के अध्यक्ष एनके सिंह को लिखी गई चिट्ठी से कुछ न कुछ असर तो जरूर पड़ेगा। साथ ही इस चिट्‌ठी में केंद्र सरकार से बड़ी मांगें की गई हैं। क्योंकि आपको याद दिला दें कि इस साल बीते 15 जनवरी को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात कर प्रदेश की निर्माणाधीन परियाजनाओं को 31 मार्च तक पूरा करने के लिए राशि उपलब्ध कराने का अनुरोध किया था। देश में कोरोना के आने के बाद अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका लगा था, जब जीडीपी औंधे मुंह गिरी थी  वहीं, अब सभी की निगाहें केंद्र सरकार के बजट पर टिकी हुई हैं। बता दें कि बजट सत्र आज यानी 29 जनवरी को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ शुरू हो गया है। इसके साथ ही सरकार 1 फरवरी को बजट संसद में पेश करेगी। साथ ही केंद्र सरकार के द्वारा जारे किये बजट से हर राज्य और उस सूबे के लोगों को कुछ न कुछ आशाएं होती हैं।