पेट्रोल-डीजल 5 रुपये हो गए सस्ता पर केवल इस राज्य में, बाकी जगह पांच दिन से बढ़ रहे हैं रेट


देश में पिछले 5 दिनों से पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ रही है वहीं असम में दोनों ईंधन के रेट 5 रुपये कम हुए है। अधिकतर शहरों पेट्रोल का दाम 100 रुपये के करीब पहुंच चुका है। वहीं डीजल भी कई जगहों पर 90 रुपये लीटर को पार कर गया है। ऐसे वक्त में असम की जनता के लिए वहां की सरकार ने पेट्रोल-डीजल पांच रुपये प्रति लीटर सस्ता करके बड़ी राहत दी है। अन्य शहरों में पिछले पांच दिनों में पेट्रोल की कीमतों में 1.46 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है, जबकि डीजल में 1.55 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। बता दें आज लगातार पाचवें दिन पेट्रोल डीजल के दामों में वृद्धि हुई है। पेट्रोल की कीमतें 25-30 पैसे तक बढ़ाई गई हैं, वहीं डीजल के दामों में 35 पैसे तक की बढ़ोतरी की गई है। राजस्थान के गंगानगर में पेट्रोल के दाम 98.98 रुपये लीटर हैं, वहीं डीजल 90.82 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है।


बता दें विधानसभा चुनावों से पहले असम सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल की कीमत में  5 रुपये की कमी की और कोरोनोवायरस महामारी के बाद शराब उत्पादों पर लगाए गए 25% के अतिरिक्त टैक्स को वापस लेने का भी फैसला किया। ईंधन की नई कीमतें शुक्रवार आधी रात से प्रभावी हो गई हैं। असम के वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने सरकार के इस फैसले की जानकारी विधानसभा में शुक्रवार को दी। उन्होंने बताया," अब असम में गुजरात के बाद देश में पेट्रोल की सबसे कम दाम होने का रिकॉर्ड होगा। उन्होंने कहा कि डीजल की कीमतें हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के बाद सबसे कम होंगी।

असम में अब दिल्ली से भी सस्ता है पेट्रोल

असम में 5 रुपये की कमी के साथ यह 85.41 रुपये प्रति लीटर पर आ जाएगा, जो गुजरात के बाद सबसे कम होगा जहां पेट्रोल की कीमत  85.30 रुपये प्रति लीटर है। वहीं अगर डीजल की बात करें तो शुक्रवार आधी रात के बाद 84.29 रुपये से घटकर 79.29 रुपये प्रति लीटर पर आ आएगी। बता दें हिमाचल प्रदेश ( 77.89 रुपये / लीटर) और हरियाणा 79.07 रुपये / लीटर) जैसे राज्यों में ईंधन की कीमतें कम हैं।

असम में मार्च-अप्रैल में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। 2016 में पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता आने वाली बीजेपी सरकार एक बार फिर से सीमावर्ती राज्य की सत्ता में आने की तैयारियों में जुटी है। पश्चिम बंगाल, असम समेत 5 राज्यों में चुनाव होने वाले हैं। बता दें आज लगातार चौथे दिन सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाए हैं।


ये राज्य वसूलते हैं ज्यादा टैक्स

कुछ दिन पहले राजस्थान सरकार ने वैल्यू एडेड टैक्स (वैट) में थोड़ी कटौती, जिससे अब राजस्थान में पेट्रोल पर वैट घटकर 36% और डीजल पर 26% रह गया है। अब वैट वसूलने के मामले में मणिपुर सबसे आगे हो गया है। यहां पेट्रोल पर 36.50% और डीजल पर 22.50% टैक्स वसूला जा रहा है। इससे पहले सबसे ज्यादा वैट राजस्थान में ही था। बड़े राज्यों में तमिलनाडु में पेट्रोल पर 15% और डीजल पर 11% टैक्स वसूला जाता है, लेकिन  यहां वैट के साथ पेट्रोल पर 13.02 रुपए और डीजल पर 9.62 रुपए प्रति लीटर सेस (उपकर) भी वसूला जाता है। ज्यादातर राज्य सेस वसूल रहे हैं। लक्षद्वीप एक मात्र ऐसा राज्य है, जहां वैट नहीं लिया जाता है।