डॉक्टर्स ड्यूटी से गायब नहीं हो सकेंगे, अब सुबह डीएचसी भेजनी होगी अटेंडेंस

doktars dyootee se gaayab nahin ho jaenge ab, do baje bhejanee hogee atendens

भोपाल कोरोना का खतरा अब कम हो रहा है,लेकिन सरकारी अस्पतालों में मरीज इलाज के लिए परेशान हो रहे हैं। छोटे अस्पतालों यानी सीएचसी पीएचसी ही नहीं बल्कि जिला अस्पताल में डॉक्टर समय पर अस्पताल नहीं पहुंच रहे हैं। इस कारण ओपीडी में पहुंचने वाले मरीजों को समय पर उपचार नहीं मिल पा रहा है। डॉक्टर के ड्यूटी टाइम में गायब रहने की शिकायतों पर स्वास्थ्य मंत्री ने सख्ती दिखाई है। अब जिला अस्पताल में पदस्थ हर डॉक्टर की अटेंडेंस सिविल सर्जन को अपने मोबाइल के व्हाट्सएप से हेल्थ कमिश्नर के पास भोपाल स्वस्थ संचालनालय भेजनी होगी। इससे हर डॉक्टर की निगरानी हो सकेगी स्वास्थ्य आयुक्त ने रोजाना सुबह 9:15 पर जिला अस्पतालों के डॉक्टरों की जानकारी निर्धारित प्रपत्र में भरकर संचालनालय के मोबाइल नंबर 70000 92927 पर व्हाट्सएप या एसएमएस भेजने के लिए आदेश दिए हैं। यदि सिविल सर्जन डॉ ने किसी डॉक्टर की गलत गलत अटेंडेंस भेजी और निरीक्षण के दौरान भी डॉक्टर गायब मिले तो अस्पताल के अधीक्षक पर कार्यवाही होगी।

डॉक्टर प्रभुराम चौधरी स्वास्थ्य मंत्री

हमारा प्रयास है कि अस्पताल में आने वाले हर मरीज को समुचित उपचार मिले कई बार डॉक्टर्स के ओपीडी में ना मिलने की शिकायतें आती थी इसको देखते हुए दिल्ली सुबह अटेंडेंस भोपाल भेजने के निर्देश दिए गए हैं। ताकि निगरानी की जा सके ।