महाकालेश्वर मंदिर परिसर को दिया जा रहा है भव्य स्वरुप


मध्यप्रदेश के उज्जैन के प्रसिद्ध भगवान महाकालेश्वर मंदिर के विस्तारीकरण और उसे भव्य स्वरुप देने के लिए जिला प्रशासन ने योजना तैयार की है।  आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मंदिर के आसपास चल रहे निमार्ण कार्यों को लेकर जिला एवं मंदिर प्रशासन ने मन्दिर  परिसर के स्ट्रक्चर, प्राचीन स्वरूप को सुरक्षित रखते हुए निमार्ण किया जा रहा है। इसका अध्ययन कर रिपोर्ट सौंपने के लिए केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान रुड़की की टीम यहां पहुंच चुकी है।

इस टीम में अभियांत्रिकी सरंचना समूह प्रमुख डॉ अचल मित्तल और राजीव गुप्ता शामिल है। उन्होंने मन्दिर का दौरा भी किया है। इस टीम के सदस्यों ने विस्तारित क्षेत्र में चल रही खुदाई, प्रमुख मंदिर स्ट्रक्चर, सभी मंजिलो का सूक्ष्म अध्ययन किया। विशेषज्ञ सदस्यों, अन्य विभाग प्रमुख, स्मार्टसिटी, उज्जैन विकास प्राधिकरण, मंदिर प्रशासक, वरिष्ठ इंजीनियर के साथ कलेक्टर आशीष सिंह ने बैठक की। कलेक्टर सिंह ने कहा कि मंदिर स्ट्रक्चर के सूक्ष्म अध्ययन के सभी डेटा, समय समय पर किये जा रहे कार्य आदि के डिजिटल रिकॉर्ड का भी सरंक्षण जरूरी हैं, जिससे सभी रिकार्ड लंबे समय तक सुरक्षित रहें और बाद में आवश्यकता पड़ने पर उसका उपयोग हो सकें। समिति सदस्यों ने सरंक्षण, विस्तारीकरण संबंधी सुझाव और महत्वपूर्ण सावधानियों के संबंध में जानकारी दी।