सूरज की किरणों से चलने वाली बस, मध्य प्रदेश सोलर एनर्जी के ब्रांडएंबेसडर ने बनाई

sooraj kee kiranon se chalane vaalee bas, madhy pradesh solar enarjee ke braandembesadar ne banaee

भोपाल।
मध्य प्रदेश के तकनीकी शिक्षा संचालनालय के तत्वावधान में मध्य प्रदेश की समस्त तकनीकी संस्थाओं को ग्रीन केंपस के रूप में विकसित किए जाने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। आज होटल पलाश में 100% सोलर ऊर्जा आधारित कैंपस का आयोजन किया गया। इस एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन एसपी पॉलिटेक्निक कॉलेज द्वारा किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से सोलर मैन ऑफ इंडिया, मध्यप्रदेश के सोलर एनर्जी ब्रांडएंबेसडर और सोलर गांधी के रूप में पहचाने जाने वाले प्रोफेसर चेतन सिंह सोलंकी शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने 100% सोलर ऊर्जा आधारित कैंपस की अवधारणा पर प्रकाश डालते हुए सोलर ऊर्जा की उपयोगिता को महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि मैं अभी तक सोलर प्रोग्राम के तहत अब तक 7.5 मिलियन परिवारों तक सोलर लैंप पहुंचा चुका हूं। अब एनर्जी स्वराज यात्रा के दौरान लोगों को सोलर ऊर्जा के बारे में जागरूक करने का काम करूंगा। और सोलर एनर्जी को प्रमोट करूंगा।



उन्होंने बताया कि 
जिस बस से वह अपनी सोलर एनर्जी स्वराज यात्रा निकाल रहे हैं वह बस भी सोलर ऊर्जा से चलती है 
उसे उन्होंने खुद तैयार किया है। इस दौरान कार्यक्रम में काफी संख्या में प्राध्यापक और छात्र उपस्थित रहे। वहीं चेतन ने आगे कहा कि सरकार शिक्षा और रोजगार के लिए इतने अभियान चला रही है लेकिन अगर बिजली नहीं होगी तो छात्र क्या पढ़ पाएंगे और कितना पढ़ सकेंगे । 

उन्होंने एक ऐसा डिजाइन का स्कूल तैयार करवाया जिसमें अव्वल तो बिजली पंखे की किसी मौसम में जरूरत ही ना रहे और अगर कभी जरूरत पड़े तो सोलर ऊर्जा के माध्यम से उसकी पूर्ति हो