Header Ads

ad728
  • Breaking News

    शुभकामना संदेशों के जरिए करीबियों को दें होली की बधाई !


    होली का त्योहार आपसी मेलजोल का त्योहार है, खुशियों का त्योहार है. 28 और 29 मार्च 2021 को देशभर में ये त्योहार से मनाया जाएगा. 28 मार्च यानी कल होलिका दहन होगा और 29 मार्च को रंगों की होली खेली जाएगी. लेकिन कोरोना के चलते इस बार होली पर लोगों का आपसी मेलजोल सीमित ही रहेगा. ऐसे में इन बधाई संदेशों के जरिए आप अपनों को होली के पर्व की शुभकामनाएं भेज सकते हैं. यहां जानिए 

    होली के शुभकामना संदेश-

    खुशियों से हो न कोई दूरी
    रहे न कोई ख्वाहिश अधूरी
    रंगों से भरे इस मौसम में रंगीन हो आपकी दुनिया पूरी
    हैप्पी होली

    -----------------------------------------------------


    सब रंगों को मिला कर पानी में,
    सतरंगी नदियां बहाई हैं
    कर देंगे सबके चेहरों को लाल
    होली की ऐसी खुमारी छाई है
    लगा दो रंग आज कोई बचके न जा पाए
    क्योंकि सबसे सतरंगी होली आई है.

    -----------------------------------------------------

    पिचकारी की धार
    गुलाल की बौछार
    अपनों का प्यार
    यही है होली का त्योहार
    हैप्पी होली !

    -----------------------------------------------------

    हवाओं के साथ अरमान भेजा है
    मोबाइल के ज़रिए पैगाम भेजा है
    वो हम हैं जिसने सबसे पहले
    आपको होली का राम-राम भेजा है

    -----------------------------------------------------

    रंग रंगीला माहौल हो, अपनों का साथ हो
    स्वादिष्ट पकवानों की मिठास पास हो
    फिर देरी किस बात की करते हो यारों
    उठाओ गुलाल और धमाल करो प्यारों

    -----------------------------------------------------

    बसंत ऋतु की बहार
    चली पिचकारी उड़ा है गुलाल
    रंग बरसे नीले हरे लाल
    मुबारक हो आपको होली का त्योहार

    -----------------------------------------------------

    लाल रंग आपके गालों के लिए
    काला रंग आपके बालों के लिए
    नीला रंग आपकी आंखों के लिए
    पीला रंग आपके हाथों के लिए
    गुलाबी रंग आपके सपनों के लिए
    सफेद रंग आपके मन के लिए
    हरा रंग आपके जीवन के लिए
    होली के इन 7 रंगों के साथ
    आपके पूरे परिवार को रंगभरी शुभकामनाएं

    -----------------------------------------------------

    खा के गुजिया पी के भंग,
    लगा के थोड़ा-थोड़ा सा रंग
    बजा के ढोलक और मृदंग,
    खेलेंगे हम होली आज तेरे संग

    -----------------------------------------------------

    राधा का रंग और कान्हा की पिचकारी
    प्यार के रंग से रंग दो दुनिया सारी
    यह रंग न जाने कोई जात न कोई बोली
    मुबारक हो आपको रंगों भरी होली

    -----------------------------------------------------

    सावधानी से खेलें रंगों का त्योहार होली, जानें खान-पान, स्वास्थ्य और स्किन को लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

    रंगों का त्योहार होली खेले जरूर लेकिन बीमार पड़कर अपने होली को बदरंग न होने दें। रासायनिक रंग जहां आपकी आंखों और त्वचा के लिए खतरनाक हो सकता है वहीं गलत व अनियंत्रित खान-पान आपको बीमार बना सकता है। अत: रंग खेलने से लेकर खान-पान में पर्याप्त सावधानी बरतें। अगर कोई अप्रिय घटना घटे तो तत्काल अस्पताल जाकर चिकित्सक से मिले। यह सलाह पटना के वरीय चिकित्सकों ने हिन्दुस्तान के पाठकों को दी। इसमें गैस्ट्रो के विशेषज्ञ डॉ. अमरेंद्र कुमार, डॉ. रमेश कुमार, डायबिटीज के डॉ. मनोज कुमार सिन्हा, नेत्र रोग के डॉ. नीलेश मोहन, त्वचा रोग के डॉ. मधुरेंद्र सिन्हा और डॉ. विकास शंकर शामिल हैं।

    जो भी खाएं साफ-सुथरा खाएं, गरिष्ठ भोजना न करें
    डॉ. अमरेंद्र कुमार, पूर्व अध्यक्ष गैस्ट्रो विभाग, आईजीआईएमएस और डॉ. रमेश कुमार, अध्यक्ष, गैस्ट्रो विभाग,एम्स के मुताबिक होली में लेाग पुआ-पूड़ी, मिठाइयां, अत्यधिक तेल-मसाले वाली सब्जियां खाते हैं। कई घरों में मांसाहार का भी प्रचलन है। स्वाद के लिए खाएं लेकिन कोई भी भोजन इतना ज्यादा ना खाएं कि तकलीफ होने लगे। मांस साफ-सफाई वाले जगहों से लें। बासी खाने से परहेज करें। 
     
    रंग खेलने से पहले लगाएं नारियल अथवा जैतून का तेल
    डॉ. मधुरेंद्र सिन्हा, एनएमसीएच और डॉ. विकास शंकर, पीएमसीएच के अनुसार होली में रासायनिक रंगों से त्वचा में जलन, खुजली, लालीपन की समस्या हो सकती है। अत: हर्बल रंग का इस्तेमाल करें। रासायनिक रंगों में एलुमिनियम ब्रोमाइड, माइका, लेड ऑक्साइड व डाई मिला होता है। यह चमकीला और मुलायम लगेगा। लेकिन त्वचा पर इसका घातक प्रभाव पड़ता है। हर्बल रंग बीट, पालक और पत्तियों से बनता है। इनका कुप्रभाव भी कम पड़ता है। ऐसे रंगों से अथवा सूखी होली खेलें। बचाव के लिए पूरी बांह की कमीज पहनें, चेहरे और हाथों पर जैतून का अथवा नारियल का तेल लगा लें। 
     
    आंखें में रंग पड़े तो रगड़ें नहीं
    आईजीआईएमएस के डॉ. नीलेश मोहन ने बताया कि आंखों में रंग पड़ जाए तो लगातार साफ और ठंडे पानी से धोएं। आंखों को रगड़े नहीं। रंगों में रासायन का प्रयोग होने से आंखों को नुकसान पहुंच सकता है। अत: जब आंखें लाल होनी लगे और दर्द हो तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क करें। 
     
    डायबिटीज मरीज मीठा और ज्यादा खाना ना खाएं
    न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल के निदेशक डॉ. मनोज कुमार सिन्हा ने बताया कि डायबिटीज के मरीज हैं तो होली के दौरान भी खाने-पीने में संयम बरतें। मीठा और तले हुए खाने से दूरी बनाए रखें। एक दिन ज्यादा खाना आपके कई दिनों की मेहनत पर पानी फेर देगा। दवा समय पर लेते रहें। अगर बाहर टहलने में मुश्किल है तो घर में ही व्यायाम और योग-प्राणायाम करें। 


    Post Top Ad

    ad728

    Post Bottom Ad

    ad728