Header Ads

ad728
  • Breaking News

    SUCI ने कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार की घोर लापरवाही के खिलाफ मनाया आनलाइन राज्यव्यापी प्रतिवाद दिवस

    कोरोना संक्रमण के दौरान सरकार की घोर लापरवाही के खिलाफ व स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने व अन्य मांगों को लेकर एस यू सी आई (कम्युनिस्ट) ने मनाया आनलाइन राज्यव्यापी प्रतिवाद दिवस


    During the Corona transition, the SUCI (Communist) celebrated the online statewide counter-protest day against the gross negligence of the government and for raising health facilities and other demands.

    भोपाल। कोरोना संक्रमण के दौरान केंद्र सरकार व मध्यप्रदेश राज्य सरकार की घोर लापरवाही एंव इस दौर में भी पर्याप्त स्वास्थ्य सुविधाओं, दवाओं आक्सीजन बेड आदि को उपलब्ध कराने में नाकाम सरकार के खिलाफ एंव तमाम जरुरतमंद लोगों पर्याप्त राशन उपलब्ध कराने व छोटे छोटे दुकानदारों व गरीब- मध्यम वर्ग के स्थिति सामान्य हो जाने तक के बिजली बिल माफ करने आदि मांगों को लेकर मेहनतकश वर्ग की पार्टी एस यू सी आई (कम्युनिस्ट) मध्यप्रदेश कमेटी द्वारा 15 मई को एक आनलाइन प्रतिवाद दिवस घोषित किया गया। 

    इस विरोध दिवस में भोपाल सहित तमाम  जिलों  के हजारों लोगों ने विभिन्न मांगों के साथ अपना फोटो सोशल मीडिया में साझा किया। 


    es yoo see aaee ne korona sankraman ke dauraan sarakaar kee ghor laaparavaahee ke khilaaph va svaasthy suvidhaen badhaane ko lekar manaaya aanalain raajyavyaapee prativaad divas

    इस अवसर पर पार्टी के जिला सचिव मुदित भटनागर  ने एक प्रेस नोट जारी करते हुये कहा कि

    "कोरोना महामारी के भयंकर हमले से हजारों हजार लोग अपने रिश्तेदारों और करीबियों को खो रहे हैं। यह सिलसिला अभी रुका नहीं है,अपितु कोरोना का हमला अभी अपने सबसे भयंकर दौर में हैं। ऐसी स्थिति में प्रदेश भर के सरकारी अस्पतालों की दशा बेहद खराब है। आम जनता को बेड ,ऑक्सीजन , दवाईयों और वेंटिलेटर जैसी अत्यंत आवश्यक वस्तुओं की कमी से जूझना पड़ रहा है । इन जीवनरक्षक व्यवस्थाओं की कमी और पर्याप्त स्टाफ ने होने  से, उचित देखभाल के अभाव में सैकड़ों लोगों के प्राण गए हैं।

     विशेषज्ञों के द्वारा चेताने के बावजूद मध्य प्रदेश में बुनियादी व्यवस्थाओं और पर्याप्त ऑक्सीजन की उपलब्धता को  सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने कोई कदम नहीं उठाए।

    ऐसी स्थिति में हमारे हज़ारों गांवों की भी स्थिति अत्यंत चिंताजनक है। कुंभ से लौटने वाले लोगों के साथ कोरोनावायरस गांव-गांव में पहुंच गया है ,तब गांव में तो कोरोना जांच तक की व्यवस्था नहीं है।उनको इलाज भी नहीं मिल पा रहा है। बड़े पैमाने पर लोगों की मृत्यु होने की आशंका है। ऐसी स्थिति में सरकार को शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में समुचित व्यवस्थाओं को बड़े पैमाने पर उपलब्ध कराना चाहिए।"

    पार्टी की  जिला कमेटी सदस्य जॉली सरकार  ने कहा कि-

    "1 वर्ष से भी अधिक समय इस महामारी को हो गया है। फिर लॉक डाउन लगा दिया गया है मजदूर व गरीब तबका अपनी रोजी-रोटी नहीं कमा पा रहा है। ऐसी स्थिति में लोगों को भूखा ना रहना पड़े, इस को सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त राशन उपलब्ध करवाना सरकार की जवाबदारी है। इसलिए सभी जरूरतमंदों को पर्याप्त  राशन मिले और राशन में दाल और तेल मिलना भी सुनिश्चित किया जाए। साथ ही छोटे छोटे दुकानदारों व गरीब मध्यम वर्गीय परिवारों के स्थिति सामान्य न होने तक के बिजली बिल माफ किये जायें।"

    आनलाइन विरोध दिवस पर निम्नलिखित मांगे रखी गयीं।


    1.कोरोना जांच संख्या घटाने की साज़िश तत्काल रद्द करो और हर नागरिक की गांव गांव तक जांच व इलाज सुनिश्चित करो।



    2.मध्य प्रदेश के हर जिला अस्पताल में जीवन रक्षक दवाइयां, पर्याप्त संख्या में  आक्सीमीटर,सीटी स्कैन जैसे जांचउपकरण,पीपीईकिट,N-95मास्क, सेनेटाइजर व आक्सीजन, वेंटीलेटर, मेडीकल स्टाफ की पर्याप्त उपलब्धता सरकार शीघ्र अतिशीघ्र सुनिश्चित करे।



    3.आक्सीजन ,दवाईयों व इंजेक्शन की कालाबाजारी पर सख्ती से रोक लगाओ।

    4. कोविड-19 के मरीजों को भर्ती कर इलाज देने के लिए पर्याप्त संख्या में अस्पताल, डॉक्टर और स्टाफ की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए प्राइवेट अस्पतालों का नियंत्रण सरकार अपने हाथ में ले और उन में निशुल्क इलाज सुनिश्चित करें।



    5.जिन डॉक्टर नर्सेज व स्टाफ को इस आपदा के समय में भर्ती किया जा रहा है, उन्हें स्थाई रूप से नियुक्त किया जाए। डॉक्टर, स्टाफ व कर्मचारियों के कोरोना ग्रस्त होने पर या उनकी मौत हो जाने पर उनके परिवार को विशेष सहायता उपलब्ध कराई जाए।

    6. सरकारी अस्पतालों में सीटी स्कैन मशीन पर्याप्त संख्या में लगाई जाएं और निशुल्क जांच सुनिश्चित की जाए। सीटी मशीन पर पीपीपी नीति  रद्द करो।



    7.. गरीब मेहनतकश व तमाम जरुरतमंद लोगों को पर्याप्त मात्रा में राशन उपलब्ध कराये जायें, छोटे व्यवसायी, नोकरीपेशा, मजदूर व बेरोजगारों को सहायता राशि मिलना सुनिश्चित किया जाये। एंव उनके बिजली बिल माफ किये जायें।

    8. अस्पतालों में भर्ती महिला मरीजों की सुरक्षा को सुनिश्चित करें। महिला स्टाफ की पर्याप्त संख्या में भर्ती करो।

    9. हर व्यक्ति का वैक्सीनेशन शीघ्र और निशुल्क होना सुनिश्चित करो।


    द्वारा

    विनोद लोगारिया 

    कार्यालय सचिव

    जिला भोपाल  मध्य प्रदेश

    सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया (कम्युनिस्ट)

    Mob. 9981954747, 9993893493

     

    Post Top Ad

    ad728

    Post Bottom Ad

    ad728